Diamond Book

झांसी की रानी लक्ष्‍मी बाई

INR 95.00

Quick Overview

झांसी की रानी लक्ष्मी बाई का जन्म वाराणसी में 19 नवम्बर 1835 में हुआ था। बचपन में उनका नाम मणिकर्णिका था। सब उनको प्यार से मनु कह कर पुकारा करते थे। उनके पिता का नाम मोरपंत व माता का नाम भागीरथी बाई था जो धार्मिक प्रवृत्ति की महिला थी। उनके पिता ब्राह्‌मण थे। सिर्फ़ 4 साल की उम्र में ही उनकी माता की मृत्यु हो गई थी इसलिये मनु के पालन पोषण की जिम्मेदारी उनके पिता पर आ गई थी। मनु ने बचपन से ही पढ़ाई के साथ.साथ शिकार करनाए तलवार.बाजीए घुड़सवारी आदि विद्याएँ सीखी।

झांसी की रानी लक्ष्‍मी बाई

Double click on above image to view full picture

Zoom Out
Zoom In

Details

Jhansi Ki Rani Laxmi Bai

Additional Information

Name झांसी की रानी लक्ष्‍मी बाई
Author Dr. Bhawan Singh Rana
Short Description

झांसी की रानी लक्ष्मी बाई का जन्म वाराणसी में 19 नवम्बर 1835 में हुआ था। बचपन में उनका नाम मणिकर्णिका था। सब उनको प्यार से मनु कह कर पुकारा करते थे। उनके पिता का नाम मोरपंत व माता का नाम भागीरथी बाई था जो धार्मिक प्रवृत्ति की महिला थी। उनके पिता ब्राह्‌मण थे। सिर्फ़ 4 साल की उम्र में ही उनकी माता की मृत्यु हो गई थी इसलिये मनु के पालन पोषण की जिम्मेदारी उनके पिता पर आ गई थी। मनु ने बचपन से ही पढ़ाई के साथ.साथ शिकार करनाए तलवार.बाजीए घुड़सवारी आदि विद्याएँ सीखी।

pages 160
SKU 9788171827589
Language Hindi
Format Paperback
DPB code DB 02217
Price INR 95.00